IBPS CLERK में सफलता के लिए इन बातों को रखिए ध्यान में !!!

IBPS CLERK

IBPS CLERK में सफलता के लिए इन बातों को रखिए ध्यान में !!!

          नमस्कार, IBPS Clerk पूरे भारत में होने वाली सबसे बड़ी परीक्षाओं में एक है। इस परीक्षा में लाखों अभ्यार्थी भाग लेते हैं। इन्ही लाखों अभ्यार्थियों की भीड़ में कुछ ही अभ्यार्थियों का चयन हो पता है। यह परीक्षा सबसे मुश्किल परीक्षाओं की सूचि में भी शुमार है। इस परीक्षा में अनुमान से कई गुना अधिक अभ्यार्थियों की हिस्सेदारी एक बहुत बड़े कारण को जन्म है कि यह परीक्षा कठिन हो जाती है। निस्संदेह इस परीक्षा में कुछ ही अभ्यार्थियों का चयन हो पता है परन्तु वो अभ्यार्थी सबसे ज्यादा मेहनती और अपनी मेहनत के प्रति समर्पित अनुशासन में स्वयं को बांधे रखते हैं।
आज हम बात करने वाले हैं कि कौन सी बातों का ध्यान में रखना IBPS Clerk के अभ्यार्थी के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है। परन्तु इससे पहले हम यह जान ले  इस परीक्षा के पैटर्न,महत्वपूर्ण पुस्तकें इत्यादि

परीक्षा का पैटर्न।

इस परीक्षा की प्रक्रिया दो चरणों होकर गुजरती है…
सबसे पहला IBPS Prelims यानी प्रारंभिक परीक्षा। इस परीक्षा की पूर्ण अवधि एक घंटे की होती है। जिसमे कि प्रश्नों की संख्या 100 होती है तथा अधिकतम अंक 100 होता है।
दूसरा चरण यानी Mains(मुख्य)। इस परीक्षा की पूर्णावधि 160 मिनट की होती है। प्रश्नों की संख्या 190 तथा अधिकतम अंक 200 की होती है। 

प्रारंभिक (विषय विवरण )

इस चरण में तीन विषयों से प्रश्न पूछे जाते है जो हैं
1 )अंग्रेजी भाषा (English Language)
इस विषय में समयावधि 20 मिनट की होती है। कूल प्रश्नों की संख्या 30 तथा अधिकतम अंक 30 होता है।
2 )संख्यात्मक क्षमता(Numerical Ability)
इस विषय में समयावधि 20 मिनट की होती है। कूल प्रश्नों की संख्या 35 तथा अधिकतम अंक 35 होता है।
3 )रिजनिंग (Reasoning Ability)
इस विषय में समयावधि 20 मिनट की होती है। कूल प्रश्नों की संख्या 35 तथा अधिकतम अंक 35 होता है।

मुख्य (विषय विवरण )
इस चरण में 4 विषयों से प्रश्न पूछे जाते हैं। …
1)रिजनिंग व कंप्यूटर (Reasoning Ability)
इस विषय की समयावधि 45 मिनट की होती है। प्रश्नों की संख्या 50 तथा अधिकतम अंक 60 होती है।
2)अंग्रेजी (English Language)
इस विषय की समयावधि 35 मिनट की होती है। प्रश्नों की संख्या 40 तथा अधिकतम अंक 40 होती है।
3)मात्रात्मक रूझान(Quantitative Aptitude)
इस विषय की समयावधि 45 मिनट की होती है। प्रश्नों की संख्या 50 तथा अधिकतम अंक 50 होती है।
4)सामान्य और वित्तीय जागरूकता(Quantitative Aptitude)
इस विषय की समयावधि 35 मिनट की होती है। प्रश्नों की संख्या 50 तथा अधिकतम अंक 50 होती है।

कौन सी पुस्तकें महत्वपूर्ण होंगी!!!

अंग्रेजी

  • High School English Grammer and Composition – Wren & Martin
  • Objective General English-Arihant Publication
  • Word Power Made Easy-Norman Lewis

रिजनिंग

  • Modern Approach to Verbal & Non-Verbal Reasoning-R.S Aggarwal-BUY NOW
  • Analytical Reasoning-M.K Pandey-BUY NOW
  • A New Approach to Reasoning:Verbal & Non Verbal-B.S Sijwali & Indu Sijwali-BUY NOW
 
मात्रात्मक योग्यता
  • Quantitive Aptitude-R.S Aggarwal
  • Data Interpretation-Arun Sharma-BUY NOW
  • Objective Mathematics for Competitive Exams-Tarun Goyal
सामान्य और वित्तीय जागरूकता
  • India Year Book -Publication Division-BUY NOW
  • Manorma Yearbook-BUY NOW
  • Banking Awareness-Arihant Publication
 
कंप्यूटर एप्टिट्यूड
  • Objective Computer Knowledge-Kiran Prakashan-BUY NOW

 

महत्वपूर्ण बातें

  • Data Interpretation(DI) एक ऐसा विषय है जिसमे अभ्यार्थी को कठिनाई होती है। इसलिए अभ्यार्थी को इस विषय को अच्छा खासा समय देना होगा। इस विषय से संभन्धित एक पुस्तक BankersAdda के द्वारा भी निकाला जाता है .जो की बहुत मददगार होती है।
  • गणित के सवालों को हल करने के लिए आपको  गणित पर ज्यादा ध्यान देना होगा ।  गणित में जल्द से जल्द प्रश्नो को हल करने के लिए आपको Square,cube etc. की अच्छी और ज्यादा से ज्यादा जानकारी होनी चाहिए।
  • इस परीक्षा में अंग्रेजी एक अहम् विषय है । जो भी किताबें सुझाई गयी हैं आप उसी के साथ चले। अगर आपको ऐसा लगता है कि आपकी अंग्रेजी बहुत अच्छी नहीं है ,तो आपको एक बहुत ही अच्छी पुस्तक KD Campus English-Neetu Singh के साथ जाना चाहिए। यह पुस्तक आपको बेसिक से चीज़ो को समझाएगी।बीते कुछ वर्षो के प्रश्नपत्र में यह देखा गया है कि Grammer लगभग गायब ही हो चूका है। ज्यादातर Vocabularyऔर Literature से ज्यादा प्रश्न पूछे जाते है। पिछले वर्ष के प्रश्नपत्रों का संग्रह और समाधान MB Publication की पुस्तक जो की A. Singh के द्वारा लिखी गयी है बहुत महत्वपूर्ण है।
  • General Awareness के लिए आपको किसी ख़ास पुस्तक पर निर्भर नहीं रहना है। आपके लिए महत्वपूर्ण यह है कि आप सामाचार पत्र को हर दिन अच्छे से पढ़े। उसमे आप यह देखे कि कौन सी बातें सुर्खियों में है। आप उन सुर्खियों को अच्छे से पढ़े और साथ ही संभव हो तो आप उससे संभंधित  सारी चीज़ों को इंटरनेट में भी खोज सकते है और पर्याप्त मात्रा में जानकारी इकट्ठी कर सकते है।
  • कई सारे अभ्यार्थी अपनी तैयारी तब आरम्भ करते है जब IBPS  के द्वारा नोटिफिकेशन निकाल दी जाती है। यह बिल्कुल गलत सिद्धांत है। अगर आप सचमुच चाहते है की IBPS Clerk में आपकी सफलता सुनिश्चित हो जाये ,तो आपके लिए यह अत्यंत महत्वपूर्ण है कि आप इसके लिए पहले एक कठोर मानसिकता बनाइये। आपको यह सुनिश्चित करना होगा कि आप सचमुच में इस परीक्षा में उत्तीर्ण होकर एक बहुत अच्छी नौकरी लेना चाहते है। आप यह सुनिश्चित करे कि आप इस परीक्षा में उत्तीर्ण होने के लिए सारी चीज़ो को त्याग सकते है।
  • कई सारे अभ्यार्थी यह समझते है कि चुकीं पहले Pre की परीक्षा होनी है तो पहलेPre की तैयारी फिर Pre की परीक्षा के बाद Mains की तैयारी। यह अवधारणा अभ्यार्थी को असफल कर देगी। आपको यह मालूम होना चाहिए की Mains की अगर आप तैयारी अच्छे से करते हैं तो Pre की तैयारी खुद ही हो जाएगी। मुख्य रूप से आपको Mains के लिए तैयारी करनी है।
  • पिछले वर्ष के प्रश्नपत्र आपको एक अच्छा अनुभव देगी की आपको किस प्रकार के प्रश्नो पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए। इसलिए पिछले वर्ष के प्रश्नपत्र को देखिये और यह समझने का प्रयास करिये कि आखिर IBPS Clerk की परीक्षा आपसे क्या चाहता है।
  • Mock Test एक ऐसा प्रयास है जिससे कि आप अपनी कमजोरी और मजबूती को पहचान सकते है।Mock Test आप ऑनलाइन या ऑफलाइन किसी भी माध्यम से दीजिये।Mock Test देने के बाद आप उसे छोड़ मत दीजिये। आप उससे यह समझने का प्रयास कीजिये की आप किस चीज़ में अच्छे है और कौन सी चीज़े आपके लिए मुश्किल है। इससे आपको यह समझने में सहायता मिलेगी की किस विषय में आपको ज्यादा समय देना है और किसमें कम।
  • अंततः आप इस परीक्षा में सफलता पाने के लिए स्वयं को पूर्ण रूप से समर्पित कर दीजिये। और सफलता लेकर ही मानिये।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *