SBI clerk notification 2021 in hindi | नोटिफिकेशन,राज्यनुसार पद विवरण,आवश्यक तिथियां इत्यादि

SBI क्लर्क भर्ती 2021

 

नमस्कार दोस्तों,
भारतीय स्टेट बैंक ने SBI clerk में भर्ती के लिए आवेदन जारी कर दिया है। इस भर्ती प्रक्रिया के माध्यम से कुल 5000 पदों पर नियुक्तियां की जाएंगी। इस भर्ती परीक्षा के लिए आवेदन देने की प्रक्रिया दिनांक 27-04-2021 से आरम्भ होगी तथा दिनांक 17-05-2021 आवेदन देने की अंतिम तिथि निर्धारित की गयी है। जून 2021 में प्रारंभिक परीक्षा का आयोजन किया जाएगा।

इस भर्ती परीक्षा में अभ्यार्थियों के द्वारा आवेदन शुल्क भी देय होगा जो कि इस प्रकार है :-

  • सामान्य/अन्य पिछड़ा वर्ग/EWS-750/-
  • अनुसूचित जनजाति/अनुसूचित जाति/दिव्यांग-00/-

इस भर्ती परीक्षा में सम्मिलित होने के लिए अभ्यार्थी की न्यूनतम आयु 20वर्ष तथा अधिकतम आयु 28वर्ष होनी चाहिए।

योग्यता

  • इस पद में भर्ती हेतु अभ्यार्थी का किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से किसी भी विषय में स्नातक की डिग्री का होना आवश्यक है।
  • अभ्यार्थी को उस क्षेत्र का स्थानीय भाषा का ज्ञान होना चाहिए। विभिन्न राज्यों की विभिन्न स्थानीय भाषा को नीचे इंगित किया गया है।

 

 

पद विवरण

  • जूनियर एसोसिएट्स(क्लर्क)-इस पद में कुल 4915 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामन्य के लिए 2109,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 1181,EWS के लिए 480,अनुसूचित जाति के लिए 722 तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 423 पद आरक्षित हैं।
  • JA क्लर्क(स्पेशल रिक्रूटमेंट)-इस पद में कुल 85 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामन्य के लिए 42,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 14,EWS के लिए 08,अनुसूचित जाति के लिए 04 तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 17 पद आरक्षित हैं।

 

 

 

राज्यानुसार पद विवरण

  • उत्तर प्रदेश– इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में हिंदी अथवा उर्दू का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 350 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 145,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 94,EWS के लिए 35,अनुसूचित जाति के लिए 73,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 03 पद आरक्षित हैं।
  • मध्य प्रदेश-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में हिंदी का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 78 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 34,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 11,EWS के लिए 07,अनुसूचित जाति के लिए 11,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 15 पद आरक्षित हैं।
  • राजस्थान– इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में हिंदी का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 175 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 72,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 35,EWS के लिए 17,अनुसूचित जाति के लिए 29,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 22 पद आरक्षित हैं।
  • दिल्ली-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में हिंदी का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 80 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 33,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 21,EWS के लिए 08,अनुसूचित जाति के लिए 12,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 06 पद आरक्षित हैं।
  • उत्तराखंड-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में हिंदी का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 70 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 40,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 09,EWS के लिए 07,अनुसूचित जाति के लिए 12,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 02 पद आरक्षित हैं।
  • छत्तीशगढ़-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में हिंदी का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 120 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 49,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 07,EWS के लिए 12,अनुसूचित जाति के लिए 14,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 38 पद आरक्षित हैं।
  • तेलांगना-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में तेलुगु अथवा उर्दू का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 275 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 111,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 74,EWS के लिए 27,अनुसूचित जाति के लिए 44,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 19 पद आरक्षित हैं।
  • अंडमान निकोबार द्वीपसमूह-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में हिंदी/अंग्रेजी का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 15 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 09,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 04,EWS के लिए 01,अनुसूचित जाति के लिए 00,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 01 पद आरक्षित हैं।
  • हिमाचल प्रदेश-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में हिंदी का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 180 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 74,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 36,EWS के लिए 18,अनुसूचित जाति के लिए 45,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 07 पद आरक्षित हैं।
  • हरयाणा-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में हिंदी/पंजाबी का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 110 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 50,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 29,EWS के लिए 11,अनुसूचित जाति के लिए 20,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 00 पद आरक्षित हैं।
  • जम्मू कश्मीर-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में हिंदी/उर्दू का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 12 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 07,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 03,EWS के लिए 01,अनुसूचित जाति के लिए 00,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 01 पद आरक्षित हैं।
  • ओडिशा-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में ओड़िआ का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 75 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 31,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 09,EWS के लिए 07,अनुसूचित जाति के लिए 12,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 06 पद आरक्षित हैं।
  • चंडीगढ़-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में हिंदी/पंजाबी का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 15 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 08,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 04,EWS के लिए 01,अनुसूचित जाति के लिए 02,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 00 पद आरक्षित हैं।
  • पंजाब-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में हिंदी/पंजाबी का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 295 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 120,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 61,EWS के लिए 29,अनुसूचित जाति के लिए 85,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 00 पद आरक्षित हैं।
  • सिक्किम-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में नेपाली/इंग्लिश का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 12 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 07,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 02,EWS के लिए 01,अनुसूचित जाति के लिए 00,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 02 पद आरक्षित हैं।
  • तमिलनाडु-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में तमिल का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 473 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 206,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 127,EWS के लिए 47,अनुसूचित जाति के लिए 89,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 04 पद आरक्षित हैं।
  • पॉन्डिचेरी-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में तमिल का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 02 नियुक्तियां की जाएंगी।
  • वेस्ट बंगाल-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में बंगाली अथवा नेपाली का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 273 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 111,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 60,EWS के लिए 27,अनुसूचित जाति के लिए 62,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 13 पद आरक्षित हैं।
  • केरला-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में मलयालम का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 97 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 53,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 26,EWS के लिए 09,अनुसूचित जाति के लिए 09,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 00 पद आरक्षित हैं।
  • लक्ष्यदीप-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में मलयालम का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 03 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 02,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 11,EWS के लिए 07,अनुसूचित जाति के लिए 11,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 01 पद आरक्षित हैं।
  • महाराष्ट्र-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में मराठी का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 640 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 286,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 172,EWS के लिए 63,अनुसूचित जाति के लिए 63,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 56 पद आरक्षित हैं।
  • गोवा-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में कोंकणी का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 10 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 07,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 01,EWS के लिए 01, अनुसूचित जाति के लिए 00,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 01 पद आरक्षित हैं।
  • असम-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में असामी/बंगाली/बोडो का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 149 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 68,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 40,EWS के लिए 14,अनुसूचित जाति के लिए 10,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 17 पद आरक्षित हैं।
  • अरुणाचल प्रदेश-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में इंग्लिश का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 15 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 08,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 00,EWS के लिए 01,अनुसूचित जाति के लिए 00,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 06 पद आरक्षित हैं।
  • मणिपुर-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में मणिपुरी का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 18 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 09,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 02,EWS के लिए 01,अनुसूचित जाति के लिए 00,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 06 पद आरक्षित हैं।
  • मेघालय-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में अंग्रेजी/गारो/खासी का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 14 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 07,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 00,EWS के लिए 01,अनुसूचित जाति के लिए 00,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 06 पद आरक्षित हैं।
  • मिजोरम-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में मिज़ो का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 20 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 08,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 01,EWS के लिए 02,अनुसूचित जाति के लिए 00,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 09 पद आरक्षित हैं।
  • नागालैंड-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में अंग्रेजी का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 10 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 05,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 00,EWS के लिए 01,अनुसूचित जाति के लिए 00,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 04 पद आरक्षित हैं।
  • त्रिपुरा-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में बंगाली/कोकबरूक का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 19 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 10,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 00,EWS के लिए 01,अनुसूचित जाति के लिए 03,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 05 पद आरक्षित हैं।
  • कर्नाटक-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में कन्नड़ का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 400 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 107,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 108,EWS के लिए 40,अनुसूचित जाति के लिए 64,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 28 पद आरक्षित हैं।
  • गुजरात-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में गुजराती का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 902 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 371,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 243,EWS के लिए 90,अनुसूचित जाति के लिए 63,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 135 पद आरक्षित हैं।
  • लद्दाख-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में लदाखी/उर्दू/डोगरी का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 08 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 06,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 02,EWS के लिए 00,अनुसूचित जाति के लिए 00,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 00 पद आरक्षित हैं।
  • कश्मीर वैली-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में कश्मीरी/उर्दू/डोगरी का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 40 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 19,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 10,EWS के लिए 04,अनुसूचित जाति के लिए 03,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 04 पद आरक्षित हैं।
  • लेह & कारगिल वैली-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में लदाखी/उर्दू/डोगरी का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 15 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 08,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 04,EWS के लिए 01,अनुसूचित जाति के लिए 01,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 01 पद आरक्षित हैं।
  • दबंग वैली,तवांग-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में अंग्रेजी का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 10 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 05,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 00,EWS के लिए 01,अनुसूचित जाति के लिए 00,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 04 पद आरक्षित हैं।
  • तुरा-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में गारो का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 10 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 05,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 00,EWS के लिए 01,अनुसूचित जाति के लिए 00,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 04 पद आरक्षित हैं।
  • मोकोकचुंग-इस राज्य में नियुक्ति हेतु अभ्यार्थी को स्थानीय भाषा के रूप में नागा का ज्ञान होना चाहिए। इस राज्य में कुल 10 नियुक्तियां की जाएंगी। जिसमे कि सामान्य के लिए 05,अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 00,EWS के लिए 01,अनुसूचित जाति के लिए 00,तथा अनुसूचित जनजाति के लिए 04 पद आरक्षित हैं।

महत्वपूर्ण लिंक्स

आवश्यक बातें।

  • अभ्यार्थी को आवेदन भरने से पहले एक बार अधिसूचना(Notification) को अवश्य पढ़ लेना चाहिए।
  • अभ्यार्थी को हाल की रंगीन फोटो,आधार कार्ड जैसी कागज़ात की आवश्यकता पड़ेगी।
  • अभ्यार्थी को योग्यता प्रमाण पत्र की आवश्यकता होगी।
  • आवेदन प्रक्रिया पूरी करने के उपरान्त अभ्यार्थी एक प्रति पुष्टिकरण पेज अपने पास अवश्य रखे।
  • अगर अभ्यार्थी आवेदन शुल्क जमा नहीं करता है तो आवेदन प्रक्रिया अधूरी रह जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *